तीन घंटे में 1400 किमी दूरी तय कर दिल्ली पहुंचा दिल, 13 साल छोटी महिला के शरीर में धड़का
NEWS


" alt="" aria-hidden="true" />करीब तीन घंटे में 1400 किमी दूर से दिल्ली पहुंचे दिल के लिए पुलिस ने ग्रीन कॉरिडोर बनाया। ओखला के फोर्टिस अस्पताल के डॉक्टरों ने 34 वर्षीय महिला के शरीर में दिल प्रत्यारोपित किया है। अपनी उम्र से 13 साल छोटी महिला के शरीर में दिल ने धड़कना शुरू कर दिया है।


जानकारी के अनुसार, मंगलवार दोपहर 3.30 बजे फोर्टिस अस्पताल के डॉक्टरों की टीम पुणे से रवाना हुई और शाम 5.40 बजे नई दिल्ली के इंदिरा गांधी हवाई अड्डे पहुंची। यहां से अस्पताल तक 18.4 किमी लंबा ग्रीन कॉरिडोर पुलिस की मदद से बनाया गया, जिसके चलते टीम को अस्पताल तक पहुंचने में महज 21 मिनट 20 सेकेंड का वक्त लगा। अस्पताल पहुंचने के बाद टीम ने सफल प्रत्यारोपण किया।

अस्पताल के वरिष्ठ डॉक्टर जेएस मेहरवाल ने बताया कि दिल्ली निवासी 34 वर्षीय महिला हार्ट फेलियर थी। राष्ट्रीय अंग एवं ऊतक प्रत्यारोपण संगठन (नोटो) में उसका पंजीयन कराया गया था, ताकि उसे नया दिल मिल सके। मंगलवार को पता चला कि पुणे के रूबी हॉल क्लीनिक में 47 वर्षीय मरीज ब्रेन डेड है। उसके परिजनों ने अंगदान का फैसला लिया है। इसके बाद टीम तत्काल पुणे रवाना हुई। 47 वर्षीय व्यक्ति का दिल अब 34 साल की महिला में धड़क रहा है।



Popular posts
पुलिस ने जारी किया मरकज का वीडियो
नागपुर से मरकज आए 54 लोगों की हुई पहचान महाराष्ट्र के नागपुर से निजामुद्दीन मरकज में 54 लोग पहुंचे थे जिनकी पहचान कर उन्हें क्वारंटीन में भेज दिया गया है। इस बात की पुष्टि नागपुर नगर निगम के कमिश्नर तुकाराम मुंडे ने की है।
ड्यूटी पर मुस्तैद मार्शल कंवरजीत ने उनसे पूछा कहां जाना है, पहचान पत्र दिखाएं। जवाब में संदिग्ध मरीज और साथ मौजूद महिलाओं ने बताया कि सुबह से करीब साढ़े तीन घंटे से एंबुलेंस का इंतजार कर रहे हैं, लेकिन नहीं आई।
मरकज में जो कुछ भी हुआ वह गलत : आरिफ मोहम्मद खान 
मरकज भवन किया जा रहा सैनिटाइज दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित मरकज भवन जहां मार्च माह में तबलीगी जमात का आयोजन हुआ था, उसे अब सैनिटाइज किया जा रहा है। इससे पहले आज सुबह से निजामुद्दीन इलाके में सैनिटाइजेशन का काम चल रहा था।